शुक्रवार, 30 अगस्त 2013

राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति की मासिक कवि-गोष्ठी

राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति की मासिक कवि-गोष्ठी
               
             14 अगस्त, 2013 को राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति की ओर से जम्भेश्वर विश्नोई धर्मशाला लाईनपार मुरादाबाद मे स्वतन्त्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कवि-गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण करके की गयी।
            इस अवसर पर कवियो ने वीर रस से परिपूर्ण गीतों एवं कविताओँ से लोगों के हृदय में देशभक्ति के भाव भरे। कार्यक्रम की अध्यक्षता रमेश यादव कृष्ण ने की। मुख्य अतिथि प्रो. ओमराज  रहे। माँ शारदे की वन्दना रामसिंह निःशंक ने प्रस्तुत की तथा संचालन अम्बरीष गर्ग ने किया।
           गोष्ठी मे वीरेन्द्र सिह ब्रजवासी, अंकित गुप्ता अंक, जितेन्द्र कुमार जौली, योगेन्द्र पाल सिंह विश्नोई, ओमकार सिंह ओंकार, रामेश्वर प्रसाद वशिष्ठ, रामदत्त द्विवेदी, विकास मुरादाबादी, कृपाल सिंह धीमान, सतीश सार्थक, राजीव शर्मा, राजीव सक्सेना, ओंकार सिंह ओंकार आदि ने काव्यपाठ किया।


साहित्य मुरादाबाद के सम्पादक जितेन्द्र कुमार जौली सम्मानित

 साहित्य मुरादाबाद के सम्पादक जितेन्द्र कुमार जौली सम्मानित
                   
                     दिनाँक 11 अगस्त, 2013 को अम्बेडकर नगर स्थित कीर्ति कम्प्यूटर सेंटर पर गांगन सेवा समिति द्वारा आयोजित उत्कर्ष प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जिसमें साहित्य मुरादाबाद इण्टरनेट पत्रिका के सम्पादक जितेन्द्र कुमार जौली को भारत रक्षा सेना द्वारा अंग-वस्त्र, श्रीफल एवं बुके देकर सम्मानित किया गया।
जितेन्द्र कुमार जौली को सम्मानित करते धर्मेन्द्र यादव, वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी, डॉ. रामानन्द शर्मा और जुगनू जादूगर
                    जितेन्द्र कुमार जौली को यह सम्मान उनके द्वारा किये गये साहित्य सृजन एवं मुरादाबाद के साहित्य को इण्टरनेट पर लाने के लिए दिया गया है। गांगन सेवा समिति के संस्थापक अध्यक्ष जितेन्द्र कुमार जौली द्वारा समाजसेवा एवं शिक्षा के क्षेत्र में भी सराहनीय कार्य किये गये हैं।
                    कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी द्वारा की गयी। मुख्य अतिथि हिन्दू महाविद्यालय, मुरादाबाद के पूर्व प्राचार्य डॉ. रामानन्द शर्मा रहे। अति विशिष्ट अतिथि जुगनू जादूगर और विशिष्ट अतिथि धर्मेन्द्र यादव रहे। कार्यक्रम में मनोज कुमार, ललित कुमार, योगेन्द्र कुमार, सतीश शर्मा, तुलाराम सैनी आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन हरनन्दन प्रसाद ने किया।


ज्योति हिन्दुस्तानी का किया गया लोकार्पण

 ज्योति हिन्दुस्तानी का किया गया लोकार्पण

                   दिनाँक 11 अगस्त, 2013 को अखिल भारतीय साहित्य एवं संस्कृति संस्थान की ओर से नवीन नगर, मुरादाबाद स्थित मानसरोवर कन्या इण्टर कॉलेज में लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया जिसमें मुरादाबाद के प्रसिद्ध हास्य कवि श्री फक्कड़ मुरादाबादी द्वारा रचित गीतों की पुस्तक 'ज्योति हिन्दुस्तान की' का लोकार्पण किया गया।
                  कार्यक्रम की शुरुआत माँ वीणा वादिनी के चित्र पर माल्यार्पण तथा अंकित गुप्ता अंक द्वारा सरस्वती वन्दना प्रस्तुत करके की गई। कार्यक्रम मे अंकित गुप्ता अंक, यू.पी. सक्सेना अस्त, रामसिंह नि:शंक, शिशुपाल मधुकर, रघुराज सिंह निश्चल, विवेक निर्मल, योगेन्द्र रस्तोगी, के.पी. सिंह सरल, सतीश सार्थक, राकेश जैसवाल, रामेश्वर प्रसाद वशिष्ठ, ओंकार सिंह ओंकार, विकास मुरादाबादी, योगेन्द्रपाल सिंह विश्नोई आदि उपस्थित रहे। 
                   कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. राजकमल गुप्ता ने की। मुख्य अतिथि श्री राजीव सक्सेना तथा विशिष्ट अतिथि एडवोकेट वी.के. जौहरी रहे। कार्यक्रम का संचालन अशोक विश्नोई ने किया। कार्यक्रम संयोजक डॉ. राकेश जैसवाल रहे।


हिन्दी साहित्य संगम की कवि गोष्ठी

 हिन्दी साहित्य संगम की कवि गोष्ठी

                 दिनाँक 4 अगस्त, 2013 को हिन्दी साहित्य संगम की ओर से आकाँक्षा विद्यापीठ मिलन विहार, मुरादाबाद में मासिक कवि-गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत माँ शारदे के चित्र पर माल्यार्पण तथा रामसिंह निःशंक द्वारा सरस्वती वन्दना प्रस्तुत करके की गई। इसके बाद रचनाकारों ने काव्यपाठ द्वारा समाज की समस्याओ पर विचार व्यक्त किये।
                कार्यक्रम मे अंकित गुप्ता अंक, यू.पी. सक्सेना अस्त, रामसिंह नि:शंक, गिरीश चन्द्र गुप्ता, रघुराज सिंह निश्चल, रामदत्त द्विवेदी, संयम वत्स, ब्रजेन्द्र वत्स, के.पी. सिंह सरल, सतीश सार्थक, राकेश जैसवाल, रामेश्वर प्रसाद वशिष्ठ, कृपाल सिंह धीमान, ओंकार सिंह ओंकार, अम्बरीष गर्ग, विकास मुरादाबादी, योगेन्द्रपाल सिंह विश्नोई आदि ने काव्यपाठ किया। 
               कार्यक्रम की अध्यक्षता राजेन्द्र मोहन शर्मा श्रृंग ने की। मुख्य अतिथि श्री अशोक विश्नोई तथा विशिष्ट अतिथि डॉ. महेश दिवाकर रहे। कार्यक्रम का संचालन अंकित गुप्ता ने किया।


वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी की पुस्तकों का किया गया विमोचन

 वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी की पुस्तकों का किया गया विमोचन


                 दिनाँक 14 जुलाई, 2013 ई. को अखिल भारतीय साहित्य एवं संस्कृति संस्थान के तत्वावधान में सिविल लाइन्स मुरादाबाद स्थित शहनाई मण्डप में भव्य लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुरादाबाद के वरिष्ठ गीतकार वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी की दो पुस्तकों 'बिटिया सोन चिरैया सी' और 'सफर उजालों का' का लोकार्पण किया गया।
                कार्यक्रम की शुरुआत माँ शारदे के चित्र पर माल्यार्पण एवं वीरेन्द्र सिंह ब्रजवासी द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वन्दना से की गई।
                काव्य कृति बिटिया सोन चिरैया सी द्वारा कन्या भ्रूण हत्या रोकने का संदेश दिया गया है तथा सफर उजालों का पुस्तक आजकल विश्व में फैले अराजकता और अत्याचारपूर्ण वातावरण में रोशनी की किरण दिखाती है।
                कार्यक्रम की अध्यक्षता रामलाल अनजाना ने की। मुख्य अतिथि माहेश्वर तिवारी रहे तथा विशिष्ट अतिथि डॉ. अवनीश सिंह चौहान एवं डॉ. प्रेमवती उपाध्याय रहीं। कार्यक्रम का संचालन अशोक विश्नोई ने किया। 
                कार्यक्रम में अम्बरीष गर्ग, जितेन्द्र कुमार जौली, परवाना कुहाड़िया, अंकित गुप्ता अंक, ओंकार सिंह ओंकार, विकास मुरादाबादी,  डॉ0 ओम आचार्य, रामदत्त द्विवेदी, ब्रजभूषण सिंह गौतम 'अनुराग', महेश दिवाकर, मनोज रस्तोगी, वीरेन्द्र सिंह 'ब्रजवासी', डा. राकेश जैसवाल, शिशुपाल 'मधुकर' रघुराज सिंह 'निश्चल', रामसिंह 'नि:शंक', डॉ. कृष्ण कुमार नाज़ आदि उपस्थित रहे।


हिन्दी साहित्य संगम की कवि गोष्ठी

 हिन्दी साहित्य संगम की कवि गोष्ठी

                 दिनाँक 4 अगस्त, 2013 को हिन्दी साहित्य संगम की ओर से आकाँक्षा विद्यापीठ मिलन विहार, मुरादाबाद में मासिक कवि-गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत माँ शारदे के चित्र पर माल्यार्पण तथा रामसिंह निःशंक द्वारा सरस्वती वन्दना प्रस्तुत करके की गई। इसके बाद रचनाकारों ने काव्यपाठ द्वारा समाज की समस्याओ पर विचार व्यक्त किये।
                कार्यक्रम मे अंकित गुप्ता अंक, यू.पी. सक्सेना अस्त, रामसिंह नि:शंक, गिरीश चन्द्र गुप्ता, रघुराज सिंह निश्चल, रामदत्त द्विवेदी, संयम वत्स, ब्रजेन्द्र वत्स, के.पी. सिंह सरल, सतीश सार्थक, राकेश जैसवाल, रामेश्वर प्रसाद वशिष्ठ, कृपाल सिंह धीमान, ओंकार सिंह ओंकार, अम्बरीष गर्ग, विकास मुरादाबादी, योगेन्द्रपाल सिंह विश्नोई आदि ने काव्यपाठ किया। 
               कार्यक्रम की अध्यक्षता राजेन्द्र मोहन शर्मा श्रृंग ने की। मुख्य अतिथि श्री अशोक विश्नोई तथा विशिष्ट अतिथि डॉ. महेश दिवाकर रहे। कार्यक्रम का संचालन अंकित गुप्ता ने किया।